Translate

Featured post

तन्हा जीवन

दीवाली की खुशियाँ तो एक पक्ष है जीवन का होना और चलना भी एक पक्ष है खुद को यादों से परहेज कर के खुद को खुद में जीना होता है जब बूं...

Google+ Followers

Wednesday, 18 June 2014

इस्लामिक आतंकवाद - मुसलमान नहीं हो , तो मर दी गोली - एक पत्नी की आपबीती

इस्लामिक आतंकवाद - मुसलमान नहीं हो , तो मर दी गोली - एक पत्नी की आपबीती
केन्‍याई महिला की आपबीती: पति से पूछा कि तुम मुसलमान हो और मार दी गोली
(फोटो - हमले के बाद कमरे में पड़े शवों को देखते पत्रकार व स्थानीय निवासी)
नैरोबी। केन्‍या के एक गांव में फुटबाल विश्‍व कप का मैच देख रहे 50 लोगों के कत्‍ल-ए-आम से जुड़ी नई जानकारी सामने आ रही है। हमला करने वाले सोमाली आतंकवादियों ने घर-घर जाकर लोगों से पूछा था कि क्‍या वे मुसलमान हैं या सोमाली भाषा बोलते हैं? इनमें से किसी भी सवाल का जवाब ना में देने वाले को उन्‍होंने गोलियों से उड़ा दिया। यह हमला पेकेटोनी में हुआ। यह जगह देश के प्रमुख पर्यटन केंद्रों में से एक, लामू, से 30 मील दक्षिण-पश्चिम में स्थित है। 
प्रत्‍यक्षदर्शियों के मुताबिक 30 हथियारबंद लोगों ने यह कत्‍ल-ए-आम मचाया। ये सभी आतंकी संगठन अल-शबाब के सदस्‍य बताए जाते हैं। ये सभी एक बस में सवार होकर आए थे।
इनके हमलों में पति को खो चुकीं एनी गैथिगी ने बताया, 'रात के करीब आठ बजे वे मेरे घर आए और हमसे पूछा कि क्‍या तुम मुसलमान हो। मेरे पति ने उन्‍हें बताया कि हम ईसाई हैं। इतना सुनते ही उन्‍होंने मेरे पति के सिर और सीने में गोलियां दाग दीं।'
एक शख्‍स ने बताया कि उनके दो भाइयों को केवल इसलिए मार दिया गया क्‍योंकि हमलावरों को उनका सोमाली नहीं बोलना नागवार गुजरा। हमले में कम से कम 48 लोगों की मौत हुई है। आतंकियों ने दो होटलों को भी आग के हवाले कर दिया।
अधिकारियों का कहना है कि रविवार रात से शुरू हुआ हमला सोमवार सुबह तक चला। उन्‍होंने हमले के लिए अल शबाब को जिम्‍म्‍ेदार ठहराया है। यह संगठन अल कायदा से जुड़ा है और सोमालिया में केन्‍या के सैनिकों की मौजूदगी का बदला लेने के लिए हमले करता रहा है। इस संगठन में सोमाली लड़ाकों के साथ कई केन्‍याई लोग भी शामिल हैं। 
आतंकियों ने एक होटल में भी खूनी खेल खेला। एक पुलिस अफसर के मुताबिक ब्रीज व्‍यू होटल में आतंकियों ने महिलाओं को अलग कर दिया और उनसे कहा कि वे पुरुषों को मरते हुए देखें। देश के गृह मंत्री का कहना है कि आतंकियों की सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ भी हुई, जिसके बाद वे पास के जंगल में भाग गए। इससे पहले वे 20 वाहनों को भी आग लगा गए थे। वे दो होटल, एक बैंक और एक पुलिस स्टेशन को भी आग के हवाले कर गए।
केन्‍याई महिला की आपबीती: पति से पूछा कि तुम मुसलमान हो और मार दी गोली
(हमले के बाद पेकेतोनी के जले हुए इक्विटी बैंक के सामने से गुजरते स्थानीय निवासी)
पुलिस महानिरीक्षक डैविड किमाइयो ने बताया कि आतंकवादियों के हमले में 50 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है। उन्होंने कहा, "हमारे अधिकारी शव तलाश रहे हैं। मृतकों की संख्या बढ सकती है। मरने वालों में शहर के पुलिस प्रमुख का ड्राइवर भी शामिल है। कई लोगों ने जंगल में भाग कर अपनी जान बचाई। फिलहाल हमले के संबंध में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।"
महिलाओं से कहा, 'देखो जैसा हम कर रहे हैं, वैसा ही केन्याई सैनिक सोमालिया में कर रहे हैं' 
ब्रीज व्यू होटल में लोग टीवी पर विश्व कप फुटबॉल के मजे ले रहे थे। अचानक वहां सोमाली आतंकियों ने धावा बोला। पुरुषों को अलग किया। महिलाओं से कहा, 'देखो तुम्हारे सैनिकों ने हमारे लोगों को कैसे मारा।' इसके बाद पुरुषों पर अंधाधुंध गोलियां चला दीं।  
आतंकी शहर में रातभर मचाते रहे तबाही
आतंकियों की कार्रवाई रविवार शाम से सोमवार सुबह तक चलती रही। आतंकियों ने इस दौरान बाद वहां के तीन होटलों, एक बैंक की इमारत और एक पुलिस स्टेशन और कई गाडिय़ों को आग लगा दी। नैरोबी में गृह मंत्रालय ने बताया, 'ये सोमालिया के अल शबाब से जुड़े आतंकी थे। दो मिनी बसों में भर कर गांव में आए थे।'
केन्‍याई महिला की आपबीती: पति से पूछा कि तुम मुसलमान हो और मार दी गोली
(अज्ञात बंदूकधारियों ने हमले के दौरान कई घरों और वाहनों को आग लगा दी।)

अल शबाब ले रहा है बदला 
2011 -
- सितंबर में आतंकवादियों ने केन्या से दो ब्रिटिश नागरिकों का अपहरण किया। एक की हत्या करने के बाद दूसरे को छह माह बाद छोड़ा। अपहरणकर्ताओं का सोमालिया से संबंध था।
- अक्टूबर में केन्या ने सोमालिया में इस्लामिक चरमपंथियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए सेना भेजी। अलकायदा से जुडे आतंकी संगठन अल शबाब ने बदला लेने की चेतावनी दी।
2013
- सितंबर में केन्या की राजधानी नैरोबी के एक मशहूर शॉपिंग मॉल पर अल शबाब ने हमला किया और 67 लोगों की हत्या कर दी। मरने वालों में भारत, अमेरिका और यूरोप के नागरिक शामिल थे।
2014
- मई में ब्रिटेन ने राजधानी नैरोबी में बड़े आतंकी हमले होने की चेतावनी जारी करते हुए अपने लोगों से केन्या न जाने की अपील की।
- जून में अल शबाब ने एक होटल पर हमला कर 48 लोगों को मौत के घाट उतारा, 25 गंभीर।
केन्‍याई महिला की आपबीती: पति से पूछा कि तुम मुसलमान हो और मार दी गोली
(मोर्चुरी में पोस्टमार्टम के लिए रखे गए शव।)

0 comments: